RTI Full Form - Right to Information.


RTI

RTI Full Form
RTI Full Form 


RTI Full Form क्या है?

RTI का फुल फॉर्म सूचना का अधिकार है ।


RTI मलतब है सूचना का अधिकार - ये कानून हमारे देश में 2005 में लागू हुआ। जिसका उपयोग करके आप सरकार और किसी भी विभाग से सूचना मांग सकते है। आमतौर पर लोगो को इतना ही पता होता है।

सूचना का अधिकार अधिनियम, 2005, जिसे भारतीय संसद द्वारा 15 जून 2005 को अपनाया गया था और 12 अक्टूबर 2005 को लागू हुआ, सूचना का अधिकार प्रदान करता है। आरटीआई का लक्ष्य सार्वजनिक प्राधिकरणों के कामकाज में जवाबदेही और पारदर्शिता सुनिश्चित करने के लिए सार्वजनिक प्राधिकरण प्रबंधन के तहत डेटा तक पहुंच की रक्षा करना है।

आरटीआई हाथ से लिखकर या टाइप करके या फिर ऑनलाइन लगाई जा सकती है. हालांकि इसका कोई विशेष पारूप नहीं हैं, लेकिन आप जिस सरकारी या सार्वजनिक संस्थान से जानकारी लेना चाहते हैं, उस विभाग या संस्थान की वेबसाइट में जाकर आरटीआई के आवेदन का प्रारूप डाउनलोड कर सकते हैं.

RTI का जवाब न मिले या प्राप्त सूचना से आप संतुष्ट न हों तो अपीलीय अधिकारी के पास सूचना का अधिकार अधिनियम के अनुच्छेद 19(1) के तहत एक अपील दायर की जा सकती है. हर विभाग में प्रथम अपीलीय अधिकारी होता है. सूचना प्राप्ति के 30 दिनों और आरटीआई अर्जी दाखिल करने के 60 दिनों के भीतर आप प्रथम अपील दायर कर सकते हैं.

सूचना का अधिकार अधिनियम का मूल उद्देश्य नागरिकों को सशक्त बनाने, सरकार के कार्य में पारदर्शिता और उत्तरदायित्व को बढ़ावा देना, भ्रष्टाचार को नियंत्रित करना और वास्तविक अर्थों में हमारे लोकतंत्र को लोगों के लिए कामयाब बनाना है। ... यह कानून नागरिकों को सरकार की गतिविधियों के बारे में जानकारी देने के लिए एक बड़ा कदम है।
 [ स्रोत संपादित करें ]

RTI Full Form के इस आर्टिकल में हम ने आप को RTI Full Form के साथ जानकारी को साझा किया है।




एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ